crossorigin="anonymous"> क्या आप भी जख्मी शेर है|

क्या आप भी जख्मी शेर है|

क्या आप भी जख्मी शेर है|

आपने सुना ही होगा कि एक जख्मी शेर बहुत ज्यादा खतरनाक हो जाता है|

  • वह अपना बदला लेने के लिए पूरी तरह से अंधा हो जाता है|
  • वह शिकार करने के लिए तत्पर रहता है|

अब हमें भी ऐसा ही बनना पड़ेगा अब हमें भी ऐसा ही करना पड़ेगा|

  • हमें भी बदला लेना होगा|
  • हमें भी अंधा होना होगा|
  • जिन लोगों ने हमारे बारे में बुरा भला क्या कहा है ,उनको हमें जवाब देना होगा और हम जवाब देंगे|

हम अपनी मेहनत से सबको जवाब देंगे

हम सबको जवाब देंगे और अपनी मेहनत के दम पर देंगे| उन्होंने जिस तरह हमें अपनी जबान से जवाब दिया है , उसी तरह हम उनको जबान से जवाब नहीं देंगे|  हम उनको मेहनत करके दिखाएंगे| दिखाएंगे कि हम कितने सफल हैं और हमारे विचार कितने उच्च हैं| अब हम ऐसा करेंगे तो वह अपने आप ही अपना सर नीचे झुका लेंगे और खुद की गलती को महसूस कर लेंगे|

ठोकरे इंसान को शक्ति देती है

  • कुछ लोग ऐसे होते हैं जो ठोकर खाने के बाद में रुक जाते हैं |तो कुछ लोग ऐसे होते हैं जो ठोकर से ही जिंदा होती है|
  • जैसे ही उनको ठोकर लगती है वह जाग जाते हैं और काम करना शुरू कर देते हैं|

जब भी आपको ठोकर लगे या आपके बारे में कोई बुरा भला कहें, तो उतनी ही ज्यादा मेहनत करनी शुरू कर दे| अपने जीवन की जंग में कूद जाए और अपने हौसलों को मजबूत कर ले और तब तक अपने जान लगाते रहे, मेहनत करते रहे तब तक कि आप सफलता को प्राप्त ना कर लो|

हमें कोई ताकत नहीं रोक सकती

जिन लोगों ने हमारे बारे में भला बुरा कहा, हमें कमजोर बताया अगर हम उन लोगों को एक बार जवाब देने की पक्की ठान ले तो फिर हमें कोई ताकत नहीं रोक पाएगी क्योंकि जब आप लोगों को जवाब देने की सोच  से मेहनत करते हो तब आपके अंदर एक नई ताकत जाग जाती है, जो आपको और भी ज्यादा मजबूत बनाती है ,जो आपको इतना प्रेरित करती है जितना आप सोच भी नहीं सकते |

  • इसीलिए अपने उन जख्मों का बदला दो|
  • जिन लोगों ने आपको जख्म दिए हैं उनको बदला देना है|
  • हमें हमें उनको जवाब देना है पर हम अपनी मेहनत से देंगे |
  • हम उनकी तरह मुंह से बोल कर उनको जवाब नहीं देंगे|

मैं एक जख्मी शेर हूं

  •  हां हम सब एक जख्मी शेर है|
  • हम सब पर लोगों ने कमेंट की है|
  •  हम सबको लोगों ने कमजोर बताया है|
  • हम सबको लोगों ने अयोग्य बताया है|
  • हम सबके साथ लोगों ने बुरा बर्ताव किया है|
  • हम सबको लोगों ने कमजोर बताया है और हम उनका जवाब आप देंगे|
  • अब हम जख्मी शेर है अब और भी ज्यादा ताकतवर हो चुके हैं क्योंकि अब हमारे अंदर एक बदले की भावना है कि हम भी उनको कुछ करके दिखाएंगे| पर हम अपनी मेहनत पर सब कुछ करेंगे|

आज से ही अपनी आंतरिक शक्तियों को जगा लो उन लोगों के बारे में सोचो जिन्होंने आपके बारे में बुरा भला कहा है और फिर उसी उर्जा से काम करना शुरू कर दो| उसी ऊर्जा का इस्तेमाल लेकर मेहनत करो और सफलता को पा लो |

क्या आप भी जख्मी शेर है|

ध्यान देने योग्य बातें

यहां पर बदला लेने से मतलब यह नहीं है कि आप किसी के साथ शारीरिक रूप से बदला लो| यहां पर मेरा समझाने  का मतलब यह है कि हम उनको जवाब अपने मेहनत के दम पर देंगे|

जिन लोगों ने हमारे बारे में बुरा भला कहा है हम उनको कुछ करके दिखाएंगे क्योंकि जब आपको कोई बुरा भला करता है और आप अपनी जुबान से ही उसको भी बुरा भला करना शुरू कर देते हो, तो इससे आप कभी भी प्रेरणा को हासिल नहीं कर पाओगे|

क्या आप भी जख्मी शेर है|
  • इसीलिए जो भी लोग आपके बारे में बुरा भला कहते हैं उनसे प्रेरित होने की कोशिश करो| वही वे लोग हैं जो आप को आगे बढ़ाने में आपकी मदद करेंगे और हम उनका फायदा उठा कर आगे बढ़ जाएंगे|
  • हम उनके शब्दों को दिल पर लेंगे और मेहनत करेंगे और उसी मेहनत के दम पर एक दिन हमारे सामने आंखें भी नहीं मिला पाएंगे|

हम अपने आप को इतना ऊपर उठा लेंगे कि वह हम तक पहुंचने के लिए भी तरस जाएंगे |वह हमसे कभी मिल भी नहीं पाएंगे और हम यही करना चाहते हैं हम इसी तरह उनको जवाब देंगे|

क्या आप भी जख्मी शेर है|

1 thought on “क्या आप भी जख्मी शेर है|”

Leave a Comment