crossorigin="anonymous"> खुद को कैसे सुधारे - Motivation For Life

खुद को कैसे सुधारे

जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए यह बहुत जरूरी है कि हम खुद को लगातार सुधारते रहे और खुद के अंदर परिवर्तन करते रहे|

जो इंसान खुद के अंदर परिवर्तन नहीं करता है और खुद को नहीं सुधरता है वह जीवन में अवश्य ही असफलता प्राप्त करता है| इसीलिए सफलता के लिए बहुत जरूरी है कि हम खुद को सुधारते रहे और आगे बढ़ाते रहें|

खुद को सुधारने के 12 आसान तरीके

आइए 12 तरीको से जानते हैं कि खुद को कैसे सुधारे|

बुरी आदतों से दूर रहे

अगर आप खुद को सुधारना चाहते हो तो सबसे पहले अपने सभी बुरी आदतों को छोड़ दें क्योंकि बुरी आदतों के कारण लोग हमें पसंद नहीं करते हैं |

  • बुरी आदतों के कारण ही हमारी सोच नकारात्मक हो जाती है और विकृत हो जाती है|
  • बुरी आदतों के कारण ही हमारे रिश्ते कमजोर पड़ जाते हैं|
  • बुरी आदतों के कारण ही हम अपने सपनों पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते हैं|
  • बुरी आदतों के कारण ही हम अच्छी नौकरी प्राप्त नहीं कर पाते हैं|
  • बुरी आदतों के कारण ही हम अपने लक्ष्यों का सही तरह से चुनाव और उनके लिए सही तरह से योजनाएं नहीं बना पाते हैं|

इसीलिए जरूरी है कि हम आज से ही अपने सभी बुरी आदतों को जाने दे |ऐसा करने से हम अपना विकास जल्द से जल्द कर पाएंगे और विकास के पथ पर जल्दी ही आगे बढ़ पायेंगे|

खुद खुद की गलतियों को स्वीकार करो

खुद को सुधारने के लिए यह भी बहुत जरूरी है कि हम खुद की गलतियों को स्वीकार करें और उनको दोबारा ना दोहराए| आज से ही सोच ले कि “मैं जो भी गलती एक बार कर दूंगा मैं उसको तुरंत ही सुधार लूंगा और कभी दोबारा नहीं करूंगा”|

इसके लिए आप यह कर सकते हो कि जब भी आप से कोई गलती हो तो आप उसको एक पेज या एक डायरी में लिख ले और उसको बार-बार पढ़ते रहे और खुद को कहते रहे कि “मैं आज के बाद यह गलती दोबारा नहीं करूंगा क्योंकि इस गलती से मुझे बहुत बड़ा नुकसान हुआ है”| अतः मैं इसे दोबारा होने दूंगा|

ऐसा करने से भी आप खुद को सुधार सकते हो |

सकारात्मक सोच पर काम करें

खुद को सुधारने के लिए बहुत जरूरी है कि हमारे विचारों का बहुत अच्छा होना आवश्यक है |ज्यादातर लोगों के दिमाग में नकारात्मक विचारों का प्रवाह होता है और इसी कारण भी हमेशा दुखी रहती है|

आज से ही अच्छे विचारों को पढ़ना शुरू करें और अपने दिमाग में सिर्फ सकारात्मक विचार रखने की कोशिश करें| ऐसा करने से हमारी सोच भी सकारात्मक होती चली जाएगी और फिर हमारे काम भी सकारात्मक होने लगेंगे और उनका परिणाम भी हमें हमेशा सकारात्मक मिलेगा|

तनाव को दूर ही रखें

खुद को सुधारने के लिए बहुत जरूरी है कि हम तनाव से दूर ही रहे और तनाव को कभी भी अपने शरीर में ना घुसने दे | अगर एक बार हमें तनाव, दबाव या चिंता हो गई तो हम कभी भी अपने कार्यों को नहीं सुधार पाएंगे और समय के साथ हम खुद को ही कमजोर बनाते चले जाएंगे क्योंकि तनाव एक बहुत बड़ी बीमारी है जो हमारे शरीर को दीमक की तरह खा जाती है|

इसीलिए इस से दूर रहने की पूरी कोशिश करें और हर कार्य को बिना दबाव के करें| चाहे कम कार्य ही क्यों ना करें |

अच्छे दोस्तों से दोस्ती करो

अगर आप भी खुद को सुधारना चाहते हो तो आपको शायद अपने दोस्त बदलने की आवश्यकता है| अगर आपको लगता है कि आप इतने सर्वश्रेष्ठ नहीं हो जितने होने चाहिए तो शायद आपके दोस्त भी उतनी अच्छे नहीं हैं जितने कि होने चाहिए|

इसीलिए आज से ही अपने बुरे दोस्तों को छोड़कर अच्छे दोस्तों से दोस्ती करो |

  • उन दोस्तों से दोस्ती करो जो आशावादी है|
  • उन दोस्तों से दोस्ती करो जो अपने क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ है और सफलता प्राप्त कर चुके हैं |
  • उन लोगों से दोस्ती करो जो सकारात्मक विचार रखते हैं और अच्छी आदतों का पालन करते हैं|
  • उन दोस्तों से दोस्ती करो जो आपको राह दिखा सके और आपकी समस्याओं को हल कर सके |
  • इस तरह हम अच्छे दोस्तों से भी दोस्ती करके खुद को सुधार सकते हैं और खुद का विकास कर सकते हैं |

व्यायाम करे

व्यायाम करने से भी बहुत सारे फायदे हैं इससे हमारा शरीर भी स्वस्थ रहता है तो हमारा मन भी स्वस्थ रहता है |इसीलिए व्यायाम करते रहे |इससे हमारा मन स्वस्थ होगा और हमारे दिमाग में नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी कम  होगा|

आज से ही व्यायाम पर भी अपना थोड़ा समय जरूर बताएं|

अपनी बात करने के तरीकों को सुधारें

सबसे पहले अपनी बात करने के तरीकों को सुधारें और कभी भी दूसरों की बुराई ना करें | जिन लोगों को बात करने का अच्छा तरीका नहीं आता है उन लोगों से कोई भी सफल व्यक्ति बात नहीं करना चाहता और इसका असर यह होता है कि वह कभी भी सफल व्यक्ति से बात करके कुछ नया नहीं सीख सकते |

इसीलिए जरूरी है कि हम अपने बात करने के तरीकों को सुधारे|

  • कभी भी किसी को गाली ना दें |
  • कभी भी किसी की आलोचना ना करें |
  • कभी भी किसी के सामने जोर से ना बोले|
  • कभी भी किसी पर अपना गुस्सा ना निकाले |
  • कभी भी किसी की बात सुनने से इंकार ना करें|
  • कभी भी किसी से जबरदस्ती बात करने की कोशिश ना करें|
  • कभी भी किसी को नीचा दिखाने की कोशिश ना करें|

और अगर हम ऐसा करेंगे तो हमारी बात करने का तरीका सुधर जाएगा और हम अच्छे तरीके के साथ अपने दोस्तों की संख्या भी बढ़ा सकते हैं और अपने आपको भी सुधार सकते हैं|

अपने आत्मविश्वास को बढ़ाएं

अगर आप भी खुद को सुधारना चाहते हो और जिंदगी में आगे बढ़ाना चाहते हो तो इसके लिए जरूरी है कि हम सबसे पहले अपने आत्मविश्वास को बढ़ाएं| विश्वास ही वह कुंजी है जो सफलता के द्वार खोल देती है और हमारी सभी अनंत शक्तियों को आजाद कर देती है|

एक बार अगर हमें अपने ऊपर विश्वास हो गया तो अपने विश्वास की ताकत के दम पर कुछ भी हासिल कर सकते हैं |सफलता के लिए बहुत जरूरी है कि हमारा आत्मविश्वास मजबूत हो |इसीलिए आज ही अपने आत्मविश्वास को मजबूत करने के नए-नए तरीके खोजे|

दूसरों की बुराई ना करें

अगर आप भी खुद को सुधारना चाहते हो तो आपको कभी भी किसी की बुराई नहीं करनी चाहिए और किसी के बारे में बुरा भला नहीं कहना चाहिए| आज से ही सोच ले कि “मैं अगर किसी के बारे में कुछ कहूंगा तो अच्छा ही कहूंगा| मैं किसी की तारीफ ही करूंगा ना की किसी की बुराई”|

आज से ही सभी दूसरे लोगों की बुराई करना बंद कर दे और अपने दोस्तों की तारीफ करना शुरू करें| ऐसा करने से भी आपका व्यक्तित्व भी सुधरता है और लोग भी आपके ऊपर विश्वास करना सीख जाते हैं|

हर व्यक्ति की मदद करें

अगर आप भी खुद को सुधारना चाहते हो तो जिस भी व्यक्ति को मदद की आवश्यकता है आप उसके लिए अपने अपना हाथ आगे बढ़ाएं और उसके मदद करें|

जरूरी नहीं है कि आप किसी की आर्थिक रूप से ही मदद करें |

  • आप किसी की भावनात्मक रूप से भी मदद कर सकते हो
  • किसी की पढ़ाई में उसके लिए मदद कर सकते हो |
  • किसी की नौकरी खोजने में मदद कर सकते हो|
  • किसी की समस्याओं को हल करने में मदद कर सकते हो|
  • किसी को अच्छा रास्ता दिखाने में मदद कर सकते हो|

आप किसी भी तरीके से किसी की मदद कर सकते हो| बस आपके अंदर मदद करने का गुण होना चाहिए| इसलिए अपने अंदर मदद करने का गुण जरुर पैदा करें|

लड़ाई झगड़े से दूर रहे

अगर आप भी खुद को सुधारना चाहते हो तो हमेशा लड़ाई झगड़े से दूर रहें क्योंकि देखा गया है कि जो व्यक्ति लड़ाई झगड़े में रहते हैं वे कभी भी खुद पर इतना अच्छा ध्यान नहीं दे पाते हैं|

आज से ही सोच ले कि मैं हर लड़ाई झगड़े से दूर रहूंगा| मेरी मेरा एक ही काम है वह है कि मैं खुद को सुधारना चाहता हूं और मैं लड़ाई झगड़े करके कभी भी खुद को नहीं सुधार पाऊंगा|

इसीलिए आज से अपने ऊपर ही पूरा ध्यान लगा ले ताकि आप भी अपने अंदर नए सुधार करके खुद को बेहतर बना सको|

दूसरों की बजाय खुद पर ध्यान दें

अगर आप भी खुद को सुधारना चाहते हो तो इसके लिए जरूरी है कि हम दूसरों की बजाय खुद पर ध्यान दें|

  • ज्यादातर लोग दूसरों के बारे में ही बातें करते हैं|
  • दूसरों के कार्यों पर ही सवाल उठाते हैं|
  • दूसरों की ही आलोचना करते हैं|
  • दूसरों को ही कार्य करते हुए देखते रहते हैं |

बल्कि इसके बजाय हमें खुद पर ध्यान देना चाहिए और हमें अपनी खुद की आदतों का अध्ययन करना चाहिए|

  • हमें अपने खुद के सपनों का ध्यान करना चाहिए|
  • हमें अपने खुद के लक्ष्यों को याद चाहिए |
  • हमें अपनी खुद की प्रगति को देखना चाहिए और अगर हम इस तरह से खुद के ऊपर पूरा ध्यान लगा लेंगे तो हम भी समय के साथ खुद को सुधार सकते हैं और बेहतर बना सकते हैं |

अगर आप आज से इन सभी तरीकों को अपनाने तो आप भी खुद को सुधार सकते हो और एक खुद को एक असफल व्यक्ति से सफल व्यक्ति बना सकते हो|

अत आज से ही सोच ले कि “मैं अपने अंदर अच्छे गुणों को लेकर आऊंगा ताकि मैं भी सफलता प्राप्त कर सकूं” |


Leave a Comment