ठोकर से भटकने की बजाय संभलना कैसे सीखें

बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो ठोकर से भटकने की बजाय संभल जाते हैं और वही लोग अपने जीवन में सफलता भी पाते हैं|

ज्यादातर लोग ही जब भी अपने जीवन में ठोकर को खाते हैं तो वे हार मान लेते हैं और खुद को कमजोर समझना शुरू कर देते हैं |ज्यादातर लोग ही ऐसे समय में हार मान लेते हैं | इसीलिए वे अपने जीवन में कुछ बड़ा कार्य नहीं कर पाते|

वहीं पर कुछ लोग ऐसे होते हैं जब भी उनको उनके जीवन में ठोकर लगती है तो उस से वे प्रेरित होते हैं और आगे बढ़ने का संकल्प लेते हैं और उनको जितनी ज्यादा ठोकरे लगती है उतने ही ज्यादा आगे बढ़ते रहते हैं|

तो अगर आप भी अपने जीवन में ठोकरे खा रहे हो और उससे डर कर काम करना बंद कर कर रहे हो तो आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताएंगे जिनको अपनाकर आप भी ठोकर से डरने की बजाय संभालना सीख सकते हो और आगे बढ़ने का निर्णय ले सकते हो|

यह तरीके आप को मोटिवेट भी करेंगे और आपको आगे बढ़ने में आपकी मदद भी करेंगे ताकि हम अपने ठोकर से भटकने की बजाय संभालना सीख लें|

आइए जानते हैं कि हम अपने जीवन में लगने वाली ठोकरो से भटकने की बजाय संभलना कैसे सीखें

अपने लक्ष्य को कभी न भूले

जो लोग अपने लक्ष्यों पर अड़े रहते हैं वे लोग कभी भी कितनी भी विपरीत परिस्थिति में नहीं घबराते और आपको भी यही करना होगा| आपको भी अपने लक्ष्यों पर अड़े रहना होगा| चाहे आप की परिस्थितियां कितनी भी खराब क्यों ना हो जाए और जब आप ऐसा करोगे तो आप कितनी भी बड़ी बाधा से कभी भी हार नहीं मानोगे और अपने आपको प्रेरित भी रख पाओगे|

इसीलिए आपके जीवन में चाहे कितनी भी खराब परिस्थितियां आ जाए|

चाहे आप कितनी भी ठोकर क्यों ना खा रहे हो फिर भी आपको अपने लक्ष्य से नहीं भटकना चाहिए और उन को पकड़े रहना चाहिए| जब भी आपको ठोकर लगे तो तुरंत ही अपने लक्ष्य को याद करें और लगातार आगे बढ़ते रहने का प्रण ले ले|

जीत की उम्मीद रखें

जब भी किसी भी व्यक्ति के जीवन में विपरीत परिस्थितियां आ जाती है और कुछ भी सही नहीं जा रहा होता तो लगभग सभी इंसान जीत की उम्मीद को छोड़ देते हैं और हार मान कर जीवन में कार्य को करना बंद कर देते हैं| इसका असर यह होता है कि वह अपनी सोच के कारण ही हार जाते हैं और कभी भी जीवन में कुछ भी बड़ा नहीं कर पाते|

लेकिन आपको ऐसा नहीं करना है| आपके जीवन में परिस्थितियां चाहे कितनी भी खराब क्यों ना हो जाए फिर भी आपको उम्मीद रखनी है कि आप एक ना एक दिन जरूर जीतेंगे और अगर आप उस समय लगाकर प्रयास करते रहेंगे और जीत की उम्मीद करते रहेंगे तो एक दिन धीरे-धीरे वे सभी खराब परिस्थितियां आपके जीवन से चली जायेंगी और फिर सुख का समय आ जाएगा|

इसीलिए आप चाहे कितनी भी ठोकरे क्यों ना खा रहे हो आपको जीत की उम्मीद कभी भी नहीं छोड़नी चाहिए और आपको ऐसे में विश्वास होना चाहिए कि आपकी मेहनत एक दिन रंग जरूर लाएगी | और इसी सोच के साथ लगातार प्रयास करते रहे और आगे बढ़ते रहे|

ठोकरें आपको हरा नहीं सकती सिर्फ डरा सकती है

आपके जीवन में चाहे कितनी भी खराब परिस्थितियां क्यों ना हो जाए वे आपको कभी भी हरा नहीं सकती बल्कि भी आपको सिर्फ डरा सकती है और हम भी उनसे डर जाते हैं और हार स्वीकार करके सब कुछ अपने आप होने देते हैं| जब आप ऐसा करना शुरू कर देंगे तो आप अपनी सोच के साथ ही हार जाएंगे और जीवन में कुछ भी बड़ा नहीं कर पाएंगे|

इसीलिए आज से ही यह बात याद कर ले कि आपके जीवन में जो विपरीत परिस्थितियां आ रही है वह आपको सिर्फ डराना चाहती है और वे आपको डरा कर ही हराना चाहती है| इसीलिए उसे कभी भी डरे नहीं बल्कि लगातार अपने कार्य को करते रहे |

जब भी आप अपने जीवन में ठोकर खाए तो और तेजी से कार्य करें ताकि आप जल्दी से संभल जाओ और अपने लक्ष्य से ना भटको| इसीलिए आपके जीवन में कितनी भी खराब परिस्थितियां अगर आ रही है तो तुरंत ही संभल जाए और लगातार काम करते रहे क्योंकि अगर आपने काम करना छोड़ दिया तो आप तुरंत ही हार जाएंगे|

फिर से नई योजनाएं बनाई

अगर आप भी अपने जीवन में ठोकरे खा रहे हैं तो यकीनन आप की योजनाएं अच्छी नहीं थी और आपने अवसरों को अपने हाथों से जाने दिया| इसीलिए अगर आपके जीवन में भी सब कुछ खराब चल रहा है तो आज से ही नई योजनाएं बनाए| नए सिरे से शुरुआत करें और अपनी गलतियों को ढूंढ कर उनको सुधारने की कोशिश करें ताकि आप ही आगे बढ़ सके|

नए अवसरों की तलाश करो

अगर आप भी अपने जीवन में ठोकरे खा रहे हो और कुछ भी अच्छा नहीं चल रहा है तो आपको कुछ नए अवसरों की तलाश करनी चाहिए जिनमें आप सफल हो सकते हो|

इसीलिए आज ही उन सभी क्षेत्रों की तलाश करो जिनमें आप कुछ अच्छा कर सकते हो और फिर उन अवसरों को अपना बना कर पूरी मेहनत के साथ कार्य करो ताकि आप भी सफलता को प्राप्त कर सको|

नए कार्य को सीखते रहे

ज्यादातर लोग ऐसे होते हैं जो कभी भी कुछ नया करना नहीं चाहते और अगर आप कुछ नया ही नहीं करोगे तो आपके जीवन में आ रही मुश्किलों को आप कैसे हरा सकते हो|

अगर आप भी अपने जीवन में कुछ अच्छा करना चाहते हो तो आपको कुछ नए कार्य सीखने होंगे और नए सिरे से शुरुआत करनी होगी| इसीलिए अगर आप भी जिंदगी में ठोकरे खा रहे हो तो आज ही कुछ नया कार्य सीख ले ताकि आप उस क्षेत्र में कार्य कर के जीवन में सफलता को प्राप्त कर सको |


1 thought on “ठोकर से भटकने की बजाय संभलना कैसे सीखें”

Leave a Comment