crossorigin="anonymous"> थकान को पैदा ना होने दें motivation in hindi for students

थकान को पैदा ना होने दें motivation in hindi for students

थकान को पैदा ना होने दें motivation in hindi for students

जैसे जैसे हमारे जीवन में समस्याएं आती चली जाती है, वैसे वैसे हम अपने जीवन से भी थकते चले जाते हैं और हमारी उर्जा कम होने लगती है| हमारा विश्वास टूट जाता है और हम घुटने टेक देते हैं| हमको लगता है कि अब जीवन में ऐसा ही चलेगा जैसा जीवन चलना चाहता है| अब मैं कुछ भी नहीं कर सकता क्योंकि अब मैं थकान और हताशा का अनुभव करने लगा हूं| अब मेरे पैरों में ताकत नहीं बची कि मैं आगे बढ़ सके और हमारी यही सोच में पूरी तरह से तोड़ देती है और हमारे जीवन को भी बर्बाद कर देती है|

  • हम पराजित तभी होते हैं जब हम सोचने लग जाते हैं कि मैं पराजित हो चुका हूं|
  • हम तभी थक जाते हैं, जब हम सोचने लग जाते हैं कि मैं थक चुका हूं |
  • हमें समस्या तभी घेर लेती है, जब हम सोचने लग जाते हैं कि अब मैं समस्याओं से लड़ नहीं सकता|
  • हमारी उर्जा तभी कम होने लगती है, जब हमको लगता है कि अब मेरे पास किसी काम को करने के लिए ऊर्जा नहीं है|

कहने का मतलब यही है कि हमारे विचार हमारे शरीर के अंदर नई ऊर्जा भी भरते हैं और हमारे शरीर से उर्जा भी निकालते हैं| अगर हमने सोच लिया कि अब हम थक चुके हैं और हम अपने जीवन को बेहतर नहीं बना सकते, तो हम कभी भी अपने जीवन को बेहतर नहीं बना पाएंगे|

अगर हमने सोच लिया कि अब मैं समस्याओं से नहीं लड़ पाऊंगा. तो हमारे सामने मुश्किलों का पहाड़ खड़ा हो जाएगा और सभी समस्याएं हमको घेर कर मार डालेंगी|

इसीलिए जरूरी है कि हम खुद के अंदर नयी ऊर्जा बढ़ाते रहे और जीवन को आगे बढ़ाते रहें| अगर हम बार-बार खुद को प्रेरित करते रहेंगे, तो हम आसानी से किसी भी समस्याओं से लड़ सकते हैं और अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं| बस इसके लिए हमें खुद के पास सकारात्मक ऊर्जा रखनी होगी और कभी भी ना हारने वाली सोच रखनी होगी और अगर हमने एक बार कभी भी ना हारने वाली सोच को पैदा कर लिया, तो फिर हमें कोई कभी हरा भी नहीं पाएगा और हम आगे बढ़ते रहेंगे|

इसीलिए मुश्किलों के सामने घुटने टेकने से अच्छा है कि उनके सामने सीना तान के खड़ा हो जाओ और कहो कि “मैं इन समस्याओं से नहीं डरता और मैं इनको हराकर ही मानूंगा” और आपकी यही सोच कुछ ही पलों में सभी समस्याओं को मिटा देंगे|

कभी भी खुद के शरीर में थकान की जड़ों को ना बढ़ने दे, उनको तुरंत ही काट दे| खुद के शरीर में थकान को भरने से अच्छा है कि आप काम करो और एक नई ऊर्जा को भरो और यही आपके जीवन को सफलता प्रदान करेगी|


2 thoughts on “थकान को पैदा ना होने दें motivation in hindi for students”

Leave a Comment