लक्ष्यों का चुनाव हमेशा खुद करें goal tips in hindi

लक्ष्यों का चुनाव हमेशा खुद करें

जब हमारे लिए दूसरे लक्ष्यों का चुनाव करने लग जाते हैं, तो हमारा अस्तित्व ही खत्म हो जाता है|

अगर हम दूसरों के चुने हुए सपने पर चलेंगे तो हम कैसे सफलता प्राप्त करेंगे |

कामयाबी का सबसे बड़ा रहस्य यही है, कि आपको अपने सपने खुद चुनने चाहिए| आपको आप से बेहतर कोई नहीं जानता है, इसीलिए दूसरों से पूछने की बजाए खुद से पूछे कि “आप क्या बनना चाहते हैं” | और जब आपका मन आपको जवाब दे “हां मैं यह करना चाहता हूं”| तो बस उसी काम में लग जाए और लगे ही रहो, जब तक कि आपको सफलता ना मिल जाए|

जब हम ऐसे पुरे मन से मेहनत करते हैं, तो हमारी सफलता भी निश्चित होती है| इसीलिए ध्यान रहे कि हमें कभी भी दूसरों से अपने सपनों के बारे में राय नहीं लेनी है|

हमें सपना खुद ही चुनना चाहिए फिर हम उस सपनों को कैसे हासिल कर सकते हैं, इसकी योजना बनाने के लिए हम किसी की मदद ले सकते हैं पर सपना हमेशा खुद ही चुनो|

  •  दूसरों से पूछने की बजाए खुद से  पूछे कि आप क्या बनना चाहते हैं|
  • दूसरों से सपना जानने के बजाय खुद से सपना जानना महत्वपूर्ण होता है|
  • आप जो भी काम करना चाहते हैं बस उसी कार्य को पूरी ईमानदारी और पुरे मन के साथ करें|
  • खुद से बार-बार पूछते रहे कि मैं क्या बनना चाहता हूं और जब कोई भी जवाब आए तो उसी काम में लग जाए|
  • आपसे ज्यादा आपको कोई नहीं जानता, इसीलिए खुद पर भरोसा रख कर खुद के सपनों को ही चुने और उन पर मेहनत करें|
  • तो आज ही खुद से कहो कि “मैं इस दुनिया के सिद्धांतों पर ना चल कर खुद के सिद्धांतों पर चलूंगा| मैं वह नहीं बनूंगा, जो मुझे दुनिया बनाना चाहती है बल्कि मैं वह बनूंगा, जो मैं खुद बनना चाहता हूं और मैं जानता हूं कि मैं खुद क्या बनना चाहता हूं”|
  • बस यह बात खुद से कहे और अपने सपनों के लिए काम करने में जुट जाएं आप जरुर सफलता को प्राप्त करोगे|
लक्ष्यों का चुनाव हमेशा खुद करें
लक्ष्यों का चुनाव हमेशा खुद करें


2 thoughts on “लक्ष्यों का चुनाव हमेशा खुद करें goal tips in hindi”

Leave a Comment