crossorigin="anonymous"> be a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 नियम

be a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 नियम

be a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 नियम

हमें लगता है कि हम किसी को तभी प्रभावित कर पाएंगे, जब हम दिखने में अच्छे हो या हमारे पास अच्छा नाम और पैसा हो| पर असलियत यह नहीं है, बल्कि असलियत यह है की  सबसे ज्यादा, वे लोग दूसरों को प्रभावित करते हैं, जो एक अच्छा श्रोता होते हैं| जो लोगों की बातें अच्छी तरह से सुनना जानता है, लोग उसकी कदर भी ज्यादा करते हैं|

ज्यादातर सफल लोग अच्छे श्रोता होते हैं| वे तभी बोलते हैं, जब उनको जरूरत महसूस होती है| इसीलिए आकर्षक व्यक्तित्व बनाने के लिए आपको लोगों की बातें सुनने में आनंद लेना चाहिए|

अच्छा श्रोता बनने के 8 नियम 8 rules to be a good listener

तो आज मैं आपको ऐसे 8 तरीका बताऊंगा, जिनसे आप लोगों से बातें भी कर सकते हो तथा अपना खुद का प्रभाव भी उन पर जमा सकते हैं|

बोले कम व सुने ज्यादा 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener

जब हम दूसरों को बोलने ही नहीं देते, तो सामने वाला हमको घमंडी अहंकारी समझ सकता है| जब हम सिर्फ अपने बारे में ही बता रहे होते हैं, तो कोई भी हमारी बातों में दिलचस्पी नहीं लेता| वह सभी हमसे किनारे को लेते हैं|

हर इंसान खुद को दिलचस्प समझता है, इसीलिए सिर्फ उसकी ही बातें सुने|

8 rules to be a good listener
  • बोलना आसान है ,पर सुनना बहुत मुश्किल है| अच्छा प्रभाव जमाने के लिए बोलने से ज्यादा  बातें सुनना आवश्यक है| इसीलिए खुद कम बोलने की कोशिश करें वह उससे उसके बारे में ही पूछते रहे|
  • आप उसके साथ(जिसके भी साथ बातें कर रहे हो) अपनी बातचीत को लंबा कीजिए| जिससे आपको उसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सके|

पूरा ध्यान उसी पर रखें 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener
  • बहुत बार हम किसी से बात तो कर रहे होते हैं, पर हमारा ध्यान कहीं और रहता है| इससे सामने वाले व्यक्ति खुद को गैरजरूरी समझने लगता है|
  • तो अगर हम भी कभी किसी से बात करें या कोई भी हमसे बात करें, तो हमें अपने दिमाग व  आंखें उसकी आंखों पर ही रखनी है| ताकि उस को लगे कि हम उसकी सभी बातें सुन रहे हैं|
  • उनकी बातें हमारे लिए बहुत जरूरी है, इसीलिए सब की बातें सुनते समय पूरी तरह से समर्पित रहे|

सवाल सवाल पूछते रहे 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener
  • सवाल का पूछना यह दिखाता है, कि आप उनकी बातों में इंटरेस्टेड है| इसीलिए बात करते वक्त सवाल पूछते रहे| सवाल पूछने से आपको भी ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिलती रहती है और आपका प्रभाव भी धीरे-धीरे जमने लगता है|
  • इसीलिए जब भी किसी से बातें करें, तो उसकी बातों को ध्यान से सुने तथा बीच-बीच में उससे सवाल पूछते रहे| जैसे कि “थोड़ा और बताओ”, “ बहुत अच्छी जानकारी है, इसके बारे में विस्तार से समझाओ” इत्यादि|
  • इन शब्दों का उपयोग करके आप अपनी बातचीत को मजबूत बना सकते हो|

बीच में ना टोके 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener

ह आदत लगभग सभी लोगों में होती है| पर अच्छे श्रोता कभी भी बीच में नहीं टोकते| उनका ध्यान बोलने से ज्यादा सुनने पर केंद्रित होता है, वह पूरी बात को उसके नजरिए से समझने के बाद ही तर्क पेश करते हैं| बिना मजबूत तर्क के अच्छे श्रोता ना उसकी बात को काटते हैं और ना ही उसको बीच में टोक कर खुद बोलते हैं|

जब भी आप बीच में टोकते हैं तो सामने वाला अपने आप ही गुस्से से भर जाता है| बीच में ठोकने से गुस्सा आना स्वाभाविक सी बात है| इसीलिए कभी भी किसी को बीच में ना टोके| उसे बोलने का पूरा मौका दें|

बातों का सम्मान करें 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener
  • आपने लोगों को कहते सुना होगा, “अरे तेरी तो सारी बातें बकवास थी” , “तूने जो भी बताया वह सब गलत था”, “तुम्हारी एक भी जानकारी मेरे किसी काम की नहीं”|
  • जब लोग सारी बातें सुनने के बाद ऐसी प्रतिक्रिया करते हैं, तो वो पूरे माहौल को ही बिगाड़ देते हैं| इसीलिए आप भी कभी इन शब्दों का इस्तेमाल किसी के भी खिलाफ ना करें| भले ही उसने सारी बातें आपको गलत बताई हो, पर आपको उनकी बातों का आदर करना चाहिए|

जब आपके खिलाफ कोई इन शब्दों का इस्तेमाल करें, तो आप उस पर हसे और उसे जाने दे| अच्छे श्रोता कभी भी इस बात की परवाह नहीं करते, कि लोग उनके बारे में क्या कह रहे हैं| बस वह बातें सुनते हैं, और खुद के काम आने वाली बातों को रख कर लेते हैं, और बाकी को छोड़ देते हैं|

कठोर शब्दों का प्रयोग ना करें 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener

कभी-कभी हम भी बात करते वक्त कठोर शब्दों का प्रयोग करते हैं| ऊंची आवाज में बात करने लगते हैं और कभी कभी हम  सामने वाले व्यक्ति को चुप रहने की सलाह देते हैं|

जब आप ऐसा करते हैं, तो सामने वाले के साथ-साथ आसपास के लोग भी आपकी बातों को ना तो सुनना चाहते हैं तथा ना ही आपको कोई पसंद करते हैं|

इसीलिए कभी भी किसी से बात करते वक्त कठोर शब्दों का व ऊंची आवाज में बात ना करें और अगर आपके खिलाफ कोई ऊंची आवाज में व कठोर शब्दों का प्रयोग करता है, तो उसे करने दे| बस आप उससे थोड़ा दूर हट जाए| एक लंबी सांस लें और उसको बेवकूफ समझ कर बोलने दे|

धन्यवाद दें 8 rules to be a good listener

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiencesअच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listenerbe a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 best नियम 8 rules to be a good listener
8 rules to be a good listener
  • जब भी आपकी बातचीत पूरी हो जाए, तो धन्यवाद बोलना कभी भी ना भूले| यह आखरी शब्द आपके चरित्र को दिखाता है| धन्यवाद बोलने की आपकी आदत आप के प्रभाव को दोगुना चौगुना कर देती है| इसीलिए हमेशा अपनी बातचीत को एक छोटे से धन्यवाद के साथ जरूर खत्म करें|
  • आप धन्यवाद के साथ और भी शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे कि “आप की जानकारी बहुत ही बेहतरीन है” , “यह मेरे जरूर काम आएगी”, “आपको आसपास की सभी बातों के बारे में बहुत अच्छी जानकारी है”, “मुझको आपसे बातचीत करके बहुत अच्छा लगा”, “मैं आपसे दोबारा जरूर मिलना चाहूंगा”|

बस यह आखरी शब्द आपके प्रभाव को दोगुना चौगुना कर देंगे इसीलिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते रहे|

अच्छे श्रोताओं की 15 आदतें 15 Habits of Good Audiences

  • वह बातचीत में पूरी तरह से मौजूद रहते है|
  • वह बातों को सुनकर पूरी प्रक्रिया को आराम से समझते हैं|
  • वह कभी भी बातचीत में कठोर शब्दों व ऊंची आवाज का प्रयोग नहीं करते|
  • वह बोलने से ज्यादा सुनते हैं|
  • कभी भी वह सामने वाले की बातों पर उंगली नहीं उठाते
  • अच्छे श्रोता कठोर तर्क देकर, आसान बात को समझा देते हैं|
  • अच्छे श्रोता आरामदायक माहौल बना कर बात करते हैं|
  • अच्छे श्रोता तुरंत प्रतिक्रिया देकर सवाल पूछते हैं|
  • अच्छे श्रोता कभी भी बीच में नहीं टोकते|
  • अच्छे श्रोता हर किसी की बात का सम्मान करते हैं|
  • अच्छे श्रोताओं का ध्यान हमेशा सीखने पर होता है|
  • अच्छे श्रोता तभी सलाह देते हैं, जब सलाह देने की जरूरत होती है|
  • अच्छे श्रोता धैर्यवान स्वभाव के होते हैं|
  • अच्छे श्रोता हमेशा बात को बढ़ाना जानते हैं|

अच्छा श्रोता बनने के 10 फायदे 10 benefits of being a good listener

  • हमारा सम्मान बढ़ जाता है|
  • हमारा नेटवर्क बड़ा हो जाता है|
  • लोग हमारी प्रशंसा करते हैं|
  • लोग हम पर विश्वास करते हैं|
  • हमें सीखने को बहुत कुछ मिलता है|
  • हमारी कम्युनिकेशन स्किल्स में सुधार आता है|
  • लोग हमें ज्यादा एहमियत देते हैं|
  • हमारी लोकप्रियता धीरे-धीरे बढ़ जाती है|
  • हम अपनी बात मनवाने में कामयाब हो जाते हैं|
  • लोग हमारी दोस्ती में विश्वास करते हैं|
  • हम पूरे माहौल को प्रभावित कर सकते हैं और फिर लोग हमारी भी बातें सुनते हैं|

जब आप अच्छे श्रोता नहीं होते हैं|be a good listener

  • तो बहस का जन्म होता है|
  • आप कुछ भी सीख नहीं पाते|
  • पूरा माहौल खराब हो जाता है|
  • हम खुद को बुद्धिमान साबित करने के चक्कर में खुद ही मूर्ख बन जाते हैं|
  • लोग हमें अहंकारी समझने लगते हैं|
  • लोग हमसे समाजिक दूरियां बनाते हैं|

4 thoughts on “be a good listener-अच्छा श्रोता बनने के 8 नियम”

Leave a Comment