crossorigin="anonymous"> How to accept responsibility in hindi -जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने

How to accept responsibility in hindi -जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने

Contents hide

How to accept responsibility in hindi-जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने

ज्यादातर लोग जिम्मेदार व्यक्ति नहीं होते हैं|

  • आप सोचिए अगर 8 साल का एक बच्चा भीख मांग रहा है, तो आप क्या सोचते हो कि उसके मां-बाप जिम्मेदार है?
  • अगर कोई अपने पद का गलत फायदा उठाकर भ्रष्टाचारी कर रहा है, तो क्या आप वह जिम्मेदार नागरिक है?
  • अगर कोई छात्र स्कूल या कॉलेज जाने की बजाय, घर से पैसे लेकर बाहर घूमता रहता है, तो क्या वह छात्र जिम्मेदार है?
  • अगर हमारे देश का कोई नेता देश की सेवा करने की बजाय देश के पैसे को लूट रहा है और अपने पद का गलत तरीके से इस्तेमाल कर रहा है ,तो क्या वह जिम्मेदार नागरिक है? (आप अपना सुझाव नीचे कमेंट करके आप अपने सुझाव जरूर दें,)

इनमें से कोई भी जिम्मेदार नागरिक नहीं है ,क्योंकि यह सभी अपने पद का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं|

जिम्मेदार नागरिक होने का क्या मतलब है

जिम्मेदार नागरिक होने का मतलब है, कि आप वह काम अच्छी तरह से करो जो काम आपको ईश्वर के द्वारा सौंपा गया है| अगर आप वो काम नहीं करते हैं तो आप एक गैर जिम्मेदार नागरिक है| और एक गैर जिम्मेदार नागरिक का ना तो कोई आदर करता है और ना ही उसका कोई भविष्य होता है|

इसीलिए सफलता केवल जिम्मेदार नागरिक ही प्राप्त करते हैं, क्योंकि वह अपनी ज़िम्मेदारियो को  अच्छी तरह से जानते हैं और फिर उनको निभाते भी है|

जिम्मेदारी कबूल करना क्यों आवश्यक हैं Why it is important to accept responsibility in hindi

  • जो व्यक्ति जिम्मेदार व्यक्ति होता है| समाज में उसको आदर दिया जाता है| उस व्यक्ति की समाज में एक अलग ही पहचान होती है|
  • और जो व्यक्ति अपनी जिम्मेदारियों से भागना शुरू कर देता है, लोग ना तो उसको इज्जत देते हैं और ना ही उसे कोई पसंद करता है| इसीलिए अपने समाज में हमें जिम्मेदार व्यक्ति को बहुत ही ज्यादा इज्जत देते हैं|
  • जब आप अपनी जिम्मेदारियों को कबूल करना शुरू करते हैं, और उनको निभाना शुरू करते हैं तो आपके परिवार की आर्थिक व स्थिति भी मजबूत बनती है|

 जब आप जिम्मेदारी कबूल करते हैं|

  • तो आपका समाज में मान, सम्मान व आदर बढ़ जाता है|
  • लोग आपसे दोस्ती करना शुरू कर देते हैं|
  • आपका पूरा परिवार हमेशा आप को प्राथमिकता देता है|
  • आप अपने  बच्चों के लिए आप एक अच्छा उदाहरण पेश करते हो|

जिम्मेदारी को कबूल कैसे करें How to accept responsibility in hindi

How to accept responsibility-जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने best 2021 aakash poonia quotes motivationforlife.in
How to accept responsibility in hindi

आइए अब जानते हैं कि आप कैसे जिम्मेदारियों को कबूल कर सकते हो| मैं आपको इसके 5 तरीके बताऊंगा, अगर आपको यह पांच तरीके पसंद आए तो आप नीचे कमेंट जरूर करें और अगर पसंद ना आए तो भी जरूर बताएं, कि आपको क्या पसंद नहीं आया है, ताकि हम खुद को सुधार सके और आपके लिए और भी अच्छे content लेकर आए|

हम आपकी आलोचना को पाकर मजबूत बनते हैं |इसीलिए आप हमारी आलोचना बेझिझक कर सकते हो |

कभी भी दोष ना दें

दोष देना भी जिम्मेदारियों कबूल ना करने का एक बहुत बड़ा कारण है| आइए जानते हैं, कि हम किस तरह दोष देते हैं|

  • मैं गरीब घर में पैदा हुई है, इसके लिए हम अपने माता-पिता को दोष दे सकते हैं, कि वह गरीब क्यों है|
  • हम ईश्वर को दोष दे सकते हैं कि उन्होंने हमें अच्छी बुद्धि क्यों नहीं दी है (ऐसा हमें लगता है कि हमारे पास इतनी बुद्धि नहीं है जितनी औरों के पास है) इसीलिए हम पढ़कर जॉब को नहीं पा सकते तो|

जब आप इस प्रकार के दोष ईश्वर व अपने परिवार पर मढ़ना शुरू कर देते हो | ऐसा करके आप खुद के अंदर improve नहीं कर पाओगे |अतः हमें खुद जिम्मेदारियों को कबूल करना होगा|

आइए जानते हैं कि हम किस से दोष  की भावना को छोड़ सकते हैं|

  • मान लिया कि हमें भगवान ने गरीब घर में जन्म दिया है, पर क्या हम से पहले किसी ने गरीब घर में जन्म नहीं लिया है| क्या गरीब घर में किसी ने जन्म लेकर कोई अमीर नहीं बना है| हमारे पास जो कुछ भी है, अगर हम उसका पूरा इस्तेमाल करें तो हम जल्दी ही खुद को सुधार करके अमीर बन सकते हैं| क्या इसी तरह दोष देकर मैं खुद को अमीर बना सकता हूँ लेकिन अगर मैं दोष देना छोड़ कर खुद में सुधार करता रहूं, तो शायद एक दिन मैं अमीर बन पाऊंगा|
  • माना कि हमें ईश्वर ने इतना ज्यादा दिमाग नहीं दिया है, जितना दूसरों को दिया है, पर क्या मैंने अपने दिमाग का सही तरह से इस्तेमाल किया है| मेरा दिमाग भी उसी कुल्हाड़ी की तरह है, जिसको अगर मैं जितना ज्यादा तेजचलाऊंगा, उतनी ही ज्यादा इसकी धार होती रहेगी|
  • इसीलिए मैं दोष देने की बजाय मेरे पास जितनी भी बुद्धि है उसका मैं सही दिशा में इस्तेमाल करूंगा और मैं इसी तरह मेरी बुद्धि का इस्तेमाल करता रहूंगा और एक दिन सफलता को प्राप्त कर लूंगा|

तो मेरे समझाने का मतलब यही है कि जब हम इस तरह के कथन बार-बार दोहराते हैं, तो हमारे दोष देने की भावना अपने आप ही खत्म होने लगती है और हम अपने जिम्मेदारियों को कबूल करके ज़िम्मेदारिया निभाना शुरू कर देंगे |

अगर आपके पास जो भी है, अगर आप उसे स्वीकार करके काम करना शुरू कर दो, तो आप भी success हो जाओगे | हमें अपनी हर स्थिति को स्वीकार करके इस चीज के बारे में सोचना चाहिए, कि मैं कैसे इस स्थिति को और भी बेहतर बना सकता हूं और अगर आपने अपनी स्थिति को स्वीकार करके  उस को बदलने की जिम्मेदारी को उठा लिया, तो आप सफलता के मार्ग पर चलना शुरू कर देते हो|

yash choudhary

निम्न बातें अपने मन में ठान लो और इनको आप बार बार दुहराओ

my financial responsibility

  • भले ही मुझे भगवान ने गरीब घर में जन्म दिया हो पर मैं इस गरीब घर में नहीं मरूंगा| मैं ईश्वर के दिए हुए इस संपूर्ण शरीर का इस्तेमाल करके खुद को अमीर बना सकता हूं और अगर मैं मेहनत करके खुद अमीर बन सकता हूं, तो मैं मेरी गरीबी के लिए ईश्वर को दोष क्यों दूं| क्यों मैं अपनी इस गरीबी के लिए अपने मां बाप को दोष दूँ |
  • अगर मैं अमीर ही बन सकता हूं, तो तो आज से मेरी यही जिम्मेदारी है और मैं इस जिम्मेदारी को स्वीकार करता हूं कि मैं कभी भी गरीब रहकर नहीं मारूंगा| मैं मेरी पूरी जी जान लगाकर पूरी मेहनत करूंगा|

my career responsibility

  • भले ही ईश्वर ने मुझे कमजोर दिमाग दिया हूं ,पर मैं इस दिमाग का भी इस्तेमाल करके खुद को होशियार बना सकता हूं और मैं यह करूंगा भी| आज से मैं अपनी पढ़ाई की जिम्मेदारी खुद स्वीकार करता हूं और पूरी मेहनत करके पढ़ाई करूंगा और सफलता को जल्द ही प्राप्त करूंगा|

तो इस प्रकार आप इन कथनों का प्रयोग करके दोष देना छोड़ सकते हो और जिम्मेदारी कबूल करना सीख सकते हो| यह कथन बार-बार दुहराए और जितनी बार आप दोहराओगे उतनी ही बार ये आपकेmotivate कर देंगे| आइए अब दूसरे तरीके के बारे में जानते हैं|

खुद की गलती माने

महान इंसान कौन है?

मैं उस इंसान को महान मानता हूं, जो अपने गलती को स्वीकार करता है| आखिर कितने लोग अपनी गलती को स्वीकार करते हैं| कोई भी नहीं करता |

मैं आपसे कुछ सवाल पूछता हूं, उनके आप अपने मन को जवाब जरूर दें

आखिर ये गलती किस की हैं 

  • आप अभी तक सफल नहीं हुए या आप कम ही सफल हुए हो यह किसकी गलती है?
  • आप बहुत ज्यादा मोटे हो ,यह किसकी गलती है?
  • आपने इस बार एग्जाम में अच्छे अंक नहीं आए हैं कि किसकी गलती है?

हममें से ज्यादातर लोग ही एक दूसरे पर गलतियां थोपते रहते हैं| हम कभी भी गलती स्वीकार नहीं करते हैं| आइए जानते हैं कि लोग कैसे दूसरों पर अपनी गलतियां थोपते हैं|

लोग दूसरों पर अपनी गलतियां कैसे थोपते हैं|

  • मैं सफल नहीं हुआ, क्योंकि मुझे वह सभी सुविधाएं मेरे माता-पिता से नहीं मिली, जो औरों को मिलती है और मेरे परिवार की आर्थिक स्थिति भी सही नहीं है| इसमें मेरे माता-पिता की पूरी गलती है|
  • मेरा वजन बढ़ गया है, क्योंकि मुझे भगवान ने ऐसा ही बनाया है और हमारे घर पर खाना भी ऐसा ही बनता है, जिसके कारण मेरा वजन बढ़ता ही चला गया|
  • मेरे एग्जाम में अच्छे अंक नहीं आए क्योंकि मेरे टीचर अच्छा नहीं पढ़ाते हैं|
  • हम इस प्रकार बहाने बना कर दूसरों पर अपनी गलतियों को थोपते देते हैं और हम कभी खुद की गलतियां नहीं मानते| लेकिन क्या होता है, जब हम खुद की गलतियां स्वीकार करते|

 क्या होता अगर हम खुद की गलतियां स्वीकार करते हैं

सफलता के लिए खुद की गलतियां स्वीकार करना बहुत ही महत्वपूर्ण है| इसीलिए मैंने एक पूरा आर्टिकल इस पर तैयार किया है|

गलतियों को कैसे सुधारें यहां पढ़े आप इसे पूरा जरूर पढ़ें यह आपके लिए बहुत काम काम का आर्टिकल है, जो आपको बहुत कुछ सिखाएगा|

किसी से उम्मीद ना करें

जब हम दूसरों से उम्मीद करने लगते हैं, तो भी हम अपनी जिम्मेदारियों से भागने लगते हैं| दूसरों की उम्मीद के भरोसे रहना आपको कभी भी सफल नहीं बना सकता और आखिर “हम क्यों बैठे दूसरों की उम्मीद, पर जब हम सब कुछ कर सकते हैं”|

तो हमें दूसरों से उम्मीद भी नहीं करनी चाहिए| आइए जानते हैं कि हम दूसरों से किस तरह उम्मीदें करते हैं|

responsibility examples

  • हम अपने माता-पिता से ही उम्मीद करते हैं, कि वही हमें हमेशा पैसा देते रहे| हम कभी कुछ नहीं करेंगे क्योंकि मेरे माता-पिता के पास बहुत पैसा है और बहुत से लोग आज भी इसी के भरोसे अपनी जिंदगी जी रहे हैं|पर हमे ऐसा सोचने के बज्जे खुद के दम पर ज़िन्दगी को जीने का प्रयास करना चाहिए |
  • हमें कभी भी अपने टीचर के भरोसे नहीं रहना चाहिए कि वह भी हमें अच्छा पढ़ाएंगे तथा हमें पास भी करेंगे| हम नहीं पढ़ते क्योंकि हम सोचते हैं की वो हमे पास करेंगे ही करेंगे क्योंकि यह उनके स्कूल की इज्जत का सवाल है, बल्कि यह सोचने की बजाय हमें खुद में सुधार करके पढ़ाई को करना चाहिए ताकि हम बिना किसी की उम्मीद के ही अच्छे अंक ला सके|
  • हां हमें कभी भी कंपनी के भरोसे नहीं रहना चाहिए, कि हमें कंपनी प्रमोशन देगी ही देगी| हमें प्रमोशन मिलेगा ही मिलेगा, क्योंकि मैं यहां काफी समय से हूं| इस प्रकार की उम्मीद के बजाय हमें मेहनत करके एक सर्वश्रेष्ठ employee  बनना चाहिए तथा खुद के काम को बेहतर करके ही प्रमोशन पाना चाहिए|

तो इस प्रकार जब हम दूसरों से उम्मीद ना करके खुद को सुधारते हैं, तो हर क्षेत्र में हमारी सफलता तय हो जाती है तथा अगर हम उम्मीद के भरोसे बैठे रहे, तो फिर सफलता प्राप्त करना हमारे लिए बहुत ही मुश्किल हो जाएगा|

किसी से भी उम्मीद ना करें जो भी करें खुद करें|

yash choudhary

अगर उम्मीदों पर बैठे रहे, तो असफलता ही प्राप्त करोगे|

yash choudhary

किसी से उम्मीद करने से लाख गुना बेहतर है, खुद को काम पर लगाओ और सफलता प्राप्त करो|

yash choudhary

किसी से भी अच्छे की उम्मीद ना करें, पहले खुद अच्छा करके दिखाओ और एक अच्छा उदाहरण दूसरों के लिए पेश करो|

yash choudhary

जिम्मेदारियों का आनंद लें

How to accept responsibility-जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने best 2021 aakash poonia quotes motivationforlife.in
How to accept responsibility in hindi

हमें जो भी जिम्मेदारियां मिल हमें उनका आनंद लेना चाहिए| अगर हम अपनी जिम्मेदारियों को बोझ समझने लग जाएंगे तो हम कभी भी उन जिम्मेदारियों को नहीं निभा पाएंगे|

इसीलिए अपनी सभी जिम्मेदारियों को पूरा करने में आनंद ले| जिम्मेदारियों को बोझ समझने वाले लोग कभी सफल नहीं होते हैं |

समाज व अपने परिवार की जिम्मेदारी लेना ही महानता की निशानी है|

yash choudhary

जिम्मेदारियों से मुंह मोड़ने वाले पुरुषो को ,खुद को मर्द कहने का अधिकार नहीं है|

yash choudhary

जिम्मेदारियां उठाना कोई आसान काम नहीं, यह अक्सर महान लोग ही कर पाते हैं|

yash choudhary

बहाने ना बनाएं

हमें कभी भी बहाने बनाकर खुद को जिम्मेदारियों से मुंह नहीं मोड़ना चाहिए| जैसे बहुत से लोग अपने कहते हुए सुना होगा

बहाने की list 

  • अभी तो मैं छोटा हूं, मुझे अपना घर संभालने की क्या जरूरत है|
  • मैं इस काम को करने के काबिल हूँ ही नहीं|
  • मेरा जन्म गरीब घर में हुआ है, इसीलिए मैं बड़े सपनों का पीछा नहीं कर सकता|
  • मैं ना तो बिल्कुल शिक्षित हूं, और ना ही इतना बुद्धिमान, कि किसी अच्छी नौकरी को प्राप्त कर सकूं|
  • हमारे घर में सभी शराब पीते हैं, इसीलिए मैं बिना शराब पिए कैसे रह सकता था|
  • मुझे लोग क्यों पसंद करेंगे, मैं तो सुंदर हूं ही नहीं|
  • मेरे पास job नहीं है, क्योंकि मैं ज्यादा बड़े लोगों को नहीं जानता|
  • मैं पढ़ तो लूँ पर कैसे पढू , मेरे पास तो पढ़ाई के सभी साधन ही नहीं है|

इस तरह की बहाने बनाकर अक्सर लोग यह दिखाते हैं, कि वह खुद सुधरना नहीं चाहते| पर आप चाहो तो इस बहाने की लिस्ट को कम कर सकते हो, बस इसके लिए आपको एक-एक बहाने को चुनकर उस पर काम करना होगा|

पर लोग अक्सर बहाने ही बनाते रहते हैं, क्योंकि बहाने बनाना आसान है, लेकिन काम करना मुश्किल है| इसीलिए कभी भी आपको बहाने ना बनाकर खुद को काम पर लगाना चाहिए और अपने दम पर सफलता प्राप्त करनी चाहिए|

बहाने बनाना अक्सर कमजोर लोगों का ही हथियार होता है

yash choudhary

असफल लोगों की सबसे बड़ी निशानी उनकी बहाना बनाने की क्षमता है|

yash choudhary

बहाने बनाना तो बहुत आसान है पर काम करना बहुत मुश्किल है| इसलिए तुम मुश्किल काम को चुनो|

yash choudhary

सफल लोग काम करने की वजह को ढूंढते हैं, बल्कि असफल लोग किसी काम को ना करने के बहाने को ढूंढते हैं|

yash choudhary

इसीलिए आपको हमेशा काम करने की वजह ढूंढनी चाहिए, ना की आप यह तलाश करें कि मुझे यह काम क्यों नहीं करना चाहिए|

yash choudhary

बहाने बनाना कैसे छोड़ें |

आखिर सफल लोग कैसे काम करने की वजह को ढूंढते है, मैं अब वह बता रहा हूं ,कि कैसे आप अपने बहाने बनाने की आदत को छोड़ सकते हो| इसके लिए बस आपको कुछ सवाल खुद से पूछने होंगे तथा बाद में उनके जवाब लिखकर उन पर काम करना होगा|

नीचे दिए गए सवालो का खुद को जवाब देते रहे इससे आप बहाने बनाना की आदत को छोड़ पाओगे|

सफल लोग कैसे वजह की तलाश करते हैं 

  • मैं सफल होना चाहता हूं, क्योंकि…………….
  • मैं थोड़ा पतला होना चाहता हूं, क्योंकि…………..
  • मैं नौकरी पाना चाहता हूं, क्योंकि……….
  • मैं अच्छे अंक प्राप्त करना चाहता हूं, क्योंकि………….
  • मैं और भी ज्यादा अमीर बनना चाहता हूं, क्योंकि ………..

अगर आप ऐसे सवाल खुद से लगातार पूछते रहते हो और उनका जवाब खुद को देते रहते हो, तो आप अपने आप ही बहाने छोड़ कर काम करने लग जाओगे|

आइए आप जानते हैं कि असफल लोग किस तरह के बहाने बनाते हैं|

  • मैं सफल नहीं हो सकता, क्योंकि…….. (इस तरह के बहुत सारे बहाने गिनाते हैं)
  • मैं मेरा वजन कम नहीं कर सकता, क्योंकि ……….( पता नहीं इस तरह इसका कितने तरीके से बहाने बनाकर सुनाते हैं)
  • मैं नौकरी प्राप्त नहीं कर सकता, क्योंकि,,,,,,,,,,,,,,,
  • मैं अच्छे अंक प्राप्त नहीं कर सकता क्योंकि………..
  • मैं अमीर नहीं बन सकता क्योंकि……………

इस तरह असफल लोग अपने बहाने के कारण ढूंढते रहते हैं तथा अपनी सोच को और भी ज्यादा मजबूत बना लेते हैं और फिर उनको खुद ही विश्वास हो जाता है, कि वह कोई भी काम नहीं कर सकते| तो आपको बहाने ना बना कर खुद को हर काम करने की वजह तलाश करते रहना चाहिए|

yash choudhary

types of responsibility

आप किस किस तरह की जिम्मेदारियां उठा सकते हैं

financial responsibility

  • आप अपनी आप अपने बच्चों को उत्तम शिक्षा में उत्पन्न सुविधाएं देने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • आप खुद के बिज़नस को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|

family responsibility

How to accept responsibility-जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने best 2021 aakash poonia quotes motivationforlife.in
How to accept responsibility in hindi जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने
  • आप अपने परिवार की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • अपना और दूसरों का ख्याल रखना की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • रिश्तों में मेच्योरिटी दिखाना की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|

professional responsibility-

  • आप अपने समाज के उत्थान की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • आप समाज कुरीतियों को मिटाने की जिम्मेदारियां उठा सकते हैं|
  • आप वातावरण को प्रदूषित ना करने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • आप ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • आप अपने देश के लिए कुछ अच्छा करने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|

career responsibility

  • आप अपने कैरियर को बेहतर बनाने की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|
  • आप अपने कार्य क्षेत्र में खुद की टीम को व  खुद की कंपनी की जिम्मेदारी उठा सकते हैं|

आइए आप जानते हैं, कि जिम्मेदार व्यक्ति के गुण कौन-कौन सी है|

जिम्मेदार व्यक्ति के गुण Qualities of responsible person in hindi

  • जिम्मेदार व्यक्ति कभी भी अपनी जिम्मेदारी से नहीं भागता|
  • जिम्मेदार व्यक्ति हमेशा खुद की गलतियों को स्वीकार करके उन्हें तुरंत सुधार लेता है|
  • जिम्मेदार व्यक्ति कभी भी दूसरों पर अपनी गलती का दोष नहीं लगाता|
  • जिम्मेदार व्यक्ति किसी भी स्थिति के लिए भगवान को दोष नहीं देता|
  • जिम्मेदार व्यक्ति कभी भी बहाना नहीं बनाता बल्कि उस काम को करने की वजह तलाश करता है|
  • जिम्मेदार व्यक्ति पूरे आनंद के साथ अपनी जिम्मेदारियों को निभाता है|
  • जिम्मेदार व्यक्ति कभी भी किसी से ज्यादा की उम्मीद नहीं करता बल्कि जो भी करता है अपने दम पर करता है|

आइये अब जानते हैं गैर जिम्मेदाराना व्यक्ति की हरकतें

गैर जिम्मेदाराना व्यक्ति की हरकतें Irresponsible person’s actions

  • परिवार को अकेला छोड़ कर खुद कहीं घूम रहा होता है|
  • कभी भी खुद की गलती नहीं मानता बल्कि दूसरों पर ही दोष देता रहता है सारा दोष ईश्वर को देता रहता है|
  • दुसरो से ही उम्मीदें करता रहता है|
  • इनकी सोच मुफ्त में खाना खाने जैसी होती है|

द बॉटम लाइन (How to accept responsibility in hindi -जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने)

तो अगर आप इन 5 आदतों पर ध्यान लगाकर अपने जीवन में उतारते हो, तो आप सफलता जरुर प्राप्त करोगे| सभी सफल व्यक्ति ,सफल इसीलिए होते है क्योंकि वह जिम्मेदार व्यक्ति होता है| जितने भी लोग सफल है या बड़ी-बड़ी कंपनियों में मैनेजर है वह इसीलिए सफल है क्योंकि वह जिम्मेदारियों को उठाना पसंद करते हैं| वह सभी  जिम्मेदारियां उठाना भी जानते हैं इसीलिए आपको भी जिम्मेदारियां उठानी सीखनी चाहिए|

my responsibility  

  • हमारी जिम्मेदारियां यही है, कि हम आपके लिए अच्छे से अच्छा कांटेक्ट लेकर आए ताकि आप उनसे बहुत कुछ सीख पाओ और अपने ज़िन्दगी को अच्छी बना पाओ|  
  • इसीलिए हम आपके लिए बहुत बड़े-बड़े आर्टिकल(How to accept responsibility in hindi -जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने) लेकर आते हैं, जो वास्तव में पूरी पढ़ने बहुत ही मुश्किल काम है|
  • इन आर्टिकल (How to accept responsibility-जिम्मेदार व्यक्ति कैसे बने)को जो पूरा पढ़ लेता है वह वास्तव में खुद में सुधार करना चाहता है और मैं शत प्रतिशत गारंटी लेता हूं, कि वह जरूर अपने जीवन में सफल होगा|